‘आप’ की शर्मनाक हार,

वार्ड नं. 6 से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार संदीप कुमार को सिर्फ एक वोट ही मिला है। संभावना है कि यह वोट भी उसने खुद ही पोल किया होगा। वार्ड नं. 8 से इसी पार्टी के कुलदीप सिंह धीर को 3 व वार्ड नं. 9 से रत्ना को 5 वोट ही मिल पाए। अगर इन सभी उम्मीदवारों के घरेलू वोटरों की गिनती की जाए तो शायद इनको मिली वोटों से अधिक हो। वार्ड नं. 12 से विजयी रही आजाद उम्मीदवार हरविंद्र कौर के ससुर सीनियर कांग्रेसी नेता हैं। वह इस वार्ड से टिकट न मिलने के कारण नाराज थे जिसके कारण उन्होंने अपनी बहू को आजाद चुनाव लड़वाया और कांग्रेसी उम्मीदवार ममता रानी को जोरदार टक्कर दी। फलस्वरूप 7 वोटों से जीत दर्ज की। वार्ड नं. 11 से आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार रेशम को 6 वोट हासिल हुए हैं। अगर बात की जाए तो नोटा की बटन की तो यह उम्मीदवार नोटा की बटन से भी कम वोटें हासिल कर सका है। इस वार्ड में कुल 9 लोगों ने नोटा को वोट दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Copyright ©digvijay.live. All Rights Reserved. Designed by : Chanchal Singh

Powered by Dragonballsuper Youtube Download animeshow