‘सौभाग्य योजना’ और प्रदेशव्यापी 2300 मेगा ग्राम शिविरों का शुभारंभ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार ने जनता के हित में कई महत्वपूर्ण जनकल्याणकारी योजनाओं को वृहद् स्तर पर लागू किया है, जिसका जनता को पूरा लाभ मिलने लगा है। महिलाओं व बच्चों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जा रहा है। अपराध पर अंकुश लगा है। स्वास्थ्य, शिक्षा, सुरक्षा से जुड़ी योजनाओं पर काफी बल दिया जा रहा है। विकास की धारा से समाज के अन्तिम व्यक्ति को जोड़ने एवं तत्काल लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से कार्य किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री जी आज जनपद उन्नाव में सौभाग्य प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना के प्रदेशव्यापी मेगा ग्राम शिविरों के शुभारम्भ अवसर पर आयोजित अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में एक दिन में 01 लाख बिजली कनेक्शन देकर सौभाग्य योजना की शुरुआत हो रही है। अब तक निःशुल्क विद्युत कनेक्शन के अन्तर्गत 21 लाख से अधिक बिजली कनेक्शन उत्तर प्रदेश में लोगों को उपलब्ध कराए जा चुके हैं।
योगी जी ने कहा कि केन्द्र में आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में राज्य सरकार पूरी संवेदनशीलता के साथ कार्य कर रही है। पूर्व की सरकारों के कार्यकाल में बिजली के क्षेत्र में अपेक्षित कार्य नहीं किए गए। प्रदेश सरकार का संकल्प है कि हर घर में बिजली उपलब्ध हो। अगर मीटर है और न्यूनतम बिजली का बिल अदा होता है, तो हम 24 घण्टे विद्युत आपूर्ति करेंगे।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि ऊर्जा के क्षेत्र में बढ़ते कदम को साकार करने के उद्देश्य से अब ’रोशन होगा मेरा भी घर’ योजना को अमलीजामा पहनाने का कार्य प्रारंभ हो गया है। सभी आर्थिक एवं सामाजिक तौर पर कमजोर परिवारों को निशुल्क बिजली कनेक्शन दिया जाएगा। ग्रामीण परिवारों को 50 रुपए की मासिक किस्तों पर बिजली कनेक्शन दिए जाने के साथ ही, प्रदेश भर के गांव-गांव में शिविर लगाए जाएंगे।
योगी जी द्वारा प्रदेश में समुचित एवं सुचारु विद्युत व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए 1200 करोड़ रुपए की लागत से 765 के0वी0 क्षमता के एक उपकेन्द्र, 220 के0वी0 क्षमता के 01 उपकेन्द्र एवं 132 के0वी0 क्षमता के 05 उपकेन्द्रों का लोकार्पण किया गया। इसके साथ ही, 122 करोड़ रुपए की लागत से 33 के0वी0 क्षमता के 29 उपकेन्द्रों का भी लोकार्पण किया गया।
मुख्यमंत्री जी ने इस अवसर पर सौभाग्य योजना के मेगा ग्राम शिविरों के शुभारम्भ के साथ-साथ ई-संयोजन मोबाइल एप का लाॅन्च, सौभाग्य योजना के पोस्टर तथा जनपद उन्नाव में 01 अप्रैल, 2017 से ऊर्जीकृत 947 मजरों की सूची की पुस्तिका का भी अनावरण किया। उन्होंने 30 लाभार्थियों को विद्युत कनेक्शन के प्रमाण-पत्र भी उपलब्ध कराए।
योगी जी ने पंडित सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला की स्मृति में स्मारक एवं भव्य पुस्तकालय का निर्माण, भगवन्त नगर क्षेत्र में 100 बेड का अस्पताल एवं एक फायर स्टेशन का निर्माण, ऐतिहासिक चंद्रिका देवी मंदिर को पर्यटन स्थल बनाए जाने, कृषि आधारित मंडी बनाए जाने एवं राजकीय विद्यालय का निर्माण कराए जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि उन्नाव जनपद में फ्लोराइड और आर्सेनिक से प्रभावित क्षेत्रों में मिनी आर0ओ0 आधारित पेयजल योजना की दिशा में कार्यवाही की जा रही है।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वर्तमान सरकार ने बिजली व्यवस्था में भेदभाव और पक्षपातपूर्ण रवैये को समाप्त किया है। लोग आरोप लगाते हैं कि हमारी सरकार राम का बार-बार स्मरण करती है। इसी उन्नाव की धरती पर जन्मे पं0 सूर्यकान्त त्रिपाठी निराला ने राम की शक्ति पूजा में राम को अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए शक्ति का आह्वान किया था। शक्ति ही प्रगति का प्रतीक है, शक्ति ही रामराज्य की कल्पना को साकार करती है। प्रधानमंत्री जी द्वारा शुरू की गई यह सौभाग्य योजना भी इसी शक्ति का उदाहरण है। उत्तर प्रदेश के हर गांव और नगर को रोशन करने का कार्य किया जाएगा। सौभाग्य योजना उसी दिशा में बढ़ने की एक कड़ी है।
योगी जी ने कहा कि 01 अप्रैल, 2017 से अब तक उन्नाव जनपद के 947 मजरों के विद्युतीकरण का कार्य किया गया है। प्रदेश में विभिन्न योजनाओं में 01 लाख 72 हजार 799 मजरों के विद्युतीकरण के सापेक्ष अभी तक 01 लाख 01 हजार 406 मजरों का विद्युतीकरण किया जा चुका है। विद्युतीकरण के कार्यों को तेजी से पूरा किया जा रहा है। इस वर्ष राज्य सरकार का 34 लाख घरों को विद्युत संयोजन देने का लक्ष्य है, जिसे समयबद्ध ढंग से पूरा किया जाएगा।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि सामाजिक विषमता के खिलाफ संघर्ष करने वाले महापुरुष बाबा साहब डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर के जन्म दिवस पर उत्तर प्रदेश सरकार ने ‘पावर फाॅर आॅल’ समझौते पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसके तहत प्रदेश में प्रत्येक घर में विद्युत उपलब्ध कराई जाएगी। इस समय हर जिला मुख्यालय को 24 घण्टे, तहसील मुख्यालयों को 20 घण्टे तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 18 घण्टे विद्युत उपलब्ध कराई जा रही है। कुछ क्षेत्रों में फीडर की उपलब्धता न होने के कारण रोस्टर के अनुसार विद्युत की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। इसके लिए सब-स्टेशन बनाए जा रहे हैं और ट्रांसफार्मरों की क्षमता बढ़ाई जा रही है।
योगी जी ने कहा कि वर्तमान सरकार के सत्ता में आने से पूर्व किसान बदहाल था। सरकार ने सत्ता में आते ही 86 लाख किसानों के 01 लाख रुपए तक के फसली ऋण को माफ किया। शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में 11 लाख परिवारों को आवास मुहैया कराए गए। वर्ष 2019 तक 24 लाख लोगों को आवास उपलब्ध कराए जाएंगे। प्रधानमंत्री जी की मंशा के अनुरूप वर्ष 2022 तक प्रत्येक परिवार के पास अपना आवास होगा। राज्य सरकार द्वारा विकास योजनाओं में बगैर किसी भेदभाव के लोगों को लाभान्वित किया जा रहा है। साथ ही, प्रदेश के अन्दर सुरक्षा का वातावरण उपलब्ध कराने की दिशा में हर सम्भव प्रयास किए जा रहे हैं। पूर्व में प्रदेश के अन्दर जंगलराज, अराजकता और अव्यवस्था की स्थिति थी। पूरी सख्ती के साथ अपराधियों के खिलाफ अभियान चलाया गया है। शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं को आम आदमी तक पहुंचाने का कार्य तेजी से किया जा रहा है।
उन्नाव जनपद की सिंचाई की योजनाओं को समयबद्ध ढंग से पूरा किए जाने का आश्वासन देते हुए मुख्यमंत्री जी ने कहा कि नहरों में टेल तक पानी पहुंचेगा, हर किसान को सिंचाई की सुविधा उपलब्ध होगी। उन्नाव की धरती सामाजिक, सांस्कृतिक, आध्यात्मिक और राजनैतिक दृष्टि से समृद्ध रही है। उन्नाव किसी भी स्थिति में उपेक्षित नहीं होगा। उन्नाव का विकास प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा। उन्होंने जनप्रतिनिधियों से अपील की कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में सप्ताह में एक दिन कैम्प लगाकर विद्युत कनेक्शन वितरण सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में लाइन लाॅस जितना कम होगा, उतनी ही अधिक विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित हो सकेगी।
इस अवसर पर विधान सभा अध्यक्ष श्री हृदय नारायण दीक्षित जी ने कहा कि प्रदेश सरकार जनता के हित में निरंतर अनेकानेक कार्य कर रही है। इसका यही परिणाम है उन्नाव की जनता को आज विकास की धारा को स्वयं देखने का मौका मिल रहा है। इससे आम जनता को पूरा लाभ मिलेगा, ज्यादा से ज्यादा लोगों को स्वास्थ्य, शिक्षा, सुरक्षा तथा विकास का लाभ दिलाए जाने का प्रयास किया जा रहा है।
कार्यक्रम को ऊर्जा मंत्री श्री श्रीकांत शर्मा, परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री स्वतंत्र देव सिंह, केन्द्रीय ऊर्जा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री आर0के0 सिंह ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Copyright ©digvijay.live. All Rights Reserved. Designed by : Chanchal Singh

Powered by Dragonballsuper Youtube Download animeshow