हाफ मैराथन के विजेताओं का पुरस्कृत किया

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रविवार को पुलिस लाईन रेसकोर्स में महिला सुरक्षा एवं सड़क सुरक्षा के उद्देश्य से पुलिस विभाग द्वारा आयोजित हाफ मैराथन के विजेताओं का पुरस्कृत किया। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा देश के अनेक राज्यों से छात्रछात्राओं, आईएएस, आईपीएस एवं महिलाओं ने इस दौड़ में प्रतिभाग कर महिला सुरक्षा एवं सड़क सुरक्षा के संदेश देने का सराहनीय प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि समाज के सर्वांगीण विकास के लिए महिलाओं की सुरक्षा के लिए सबको व्यक्तिगत जिम्मेदारी लेनी होगी। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि महिलाओं की भागीदारी के बिना समाज के सर्वांगीण विकास की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड के 03 जिलों में बाल लिंगानुपात अभी भी कम है, जो चिन्ता का विषय है। उन्होंने कहा कि इन जिलों में बाल लिंगानुपात को संतुलित करने के लिए जनजागरूकता एवं बेटी बचाओ के संदेश का व्यापक प्रचारप्रसार जरूरी है। इन 03 जिलों के लिंगानुपात को 02 साल में ठीक करने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए ट्रैफिक व्यवस्था और यातायात नियंत्रण के लिए और प्रभावी उपाय किये जाने की जरूरत है। दुर्घटनाओं के कारण देश की जीडीपी को 03 प्रतिशत का नुकसान होता है। उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा के नियमों का पूर्णतः पालन करने से सड़क दुर्घटनाओं पर काफी अंकुश लगेगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने हाफ मैराथन एवं मिनी मैराथन में पुरूष एवं महिला वर्ग में प्रथम पांच स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कृत भी किया। 21 किमी की हाफ मैराथन में पुरूष वर्ग में रायपुर, देहरादून के सुरेश कुमार ने प्रथम, हैदराबाद के शंकरमन थापा ने द्वितीय व रानीखेत के अनिल कुमार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। जबकि महिला वर्ग हाफ मैराथन में लखनऊ की मोनिका चैधरी ने प्रथम, केन्या की शुशील्या ने द्वितीय व रोहतक, हरियाणा की आदेश कुमार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। 07 किमी की मिनी मैराथन में पुरूष वर्ग में मसूरी के पंकज ने प्रथम, अमन ने द्वितीय एवं प्रदीप ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। जबकि महिला वर्ग में मिनी मैराथन में काशीपुर की नेहा थपलियाल ने प्रथम एवं मसूरी की शोभा राणा ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। 18 वर्ष से कम आयु के प्रतिभागियों की 07 किमी की मिनी मैराथन में पुरूष वर्ग में अंकुश शर्मा ने प्रथम, गौरव कुमार ने द्वितीय एवं राहुल कुमार ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। जबकि महिला वर्ग में नेहा सैनी ने प्रथम, शिवानी ने द्वितीय व संध्या ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। हाफ मैराथन में पुरूष एवं महिला वर्ग में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वालों को क्रमशः एक लाख रूपये, पचास हजार रूपये एवं पच्चीस हजार रूपये की धनराशि प्रदान की गई। जबकि मिनी मैराथन में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वालों को पचास हजार, पच्चीस हजार एवं पन्द्रह हजार जबकि 18 वर्ष से कम आयु वर्ग की मिनी मैराथन में प्रथम द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वालों को क्रमशः पच्चीस हजार, पन्द्रह हजार एवं दस हजार रूपये की धनराशि प्रदान की गई। पुलिस महानिदेशक श्री अनिल रतूड़ी ने कहा कि मानव जीवन को और बेहतर बनाने के लिए महिला सुरक्षा एवं सड़क सुरक्षा महत्वपूर्ण विषय है। इस हाफ मैराथन में इन दो विषयों के संदेश को लेकर 26 राज्यों के लगभग 20 हजार लोगों ने प्रतिभाग किया। हाफ मैराथन में मुम्बई के कौथिग ग्रुप के अलावा 11 विदेशी लोगों ने भी प्रतिभाग किया। उन्होंने कहा कि हाफ मैराथन का मुख्य उद्देश्य महिला सुरक्षा एवं सड़क सुरक्षा के लिए सामाजिक चेतना और सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाना है। इस अवसर पर विधायक श्री मनोज रावत, अपर पुलिस महानिदेशक श्री अशोक कुमार, पूर्व गढ़वाल कमिश्नर श्री. सी.एस. नपलच्याल एवं पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Copyright ©digvijay.live. All Rights Reserved. Designed by : Chanchal Singh

Powered by Dragonballsuper Youtube Download animeshow